दिल्ली

Jama Masjid Delhi: जामा मस्जिद में अकेली लड़की की एंट्री पर बैन, कहा- अकेली लड़कियां यहां लड़कों को वक्‍त देती हैं…

Jama Masjid Delhi: दिल्ली की जामा मस्जिद ने अकेली लड़कियों की एंट्री बैन कर दी है. दरअसल अकेली महिलाओं के लिए जामा मस्जिद के एंट्री गेटों...

Jama Masjid Delhi: दिल्ली की जामा मस्जिद ने अकेली लड़कियों की एंट्री बैन कर दी है. दरअसल अकेली महिलाओं के लिए जामा मस्जिद के एंट्री गेटों पर नो-एंट्री के बोर्ड लगा दिए गए. नोटिस में ये साफ़ लिखा है कि लड़की या लड़कियों का अकेले दाखला जामा मस्जिद में मना है.

Jama Masjid
Jama Masjid
  • मतलब अब बिना पुरुष के अकेली महिलाएं जामा मस्जिद में नहीं जा पाएंगी.
  • इस बात को लेकर राजनीति शुरू चुकी है.
  • दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने जामा मस्जिद के इस आदेश का विरोध किया है.

स्वाति मालिवाल ने किया विरोध: Jama Masjid Delhi

  • स्वाति मालीवाल का कहना है कि इस मामले में वह मस्जिद के इमाम को नोटिस जारी करेंगी.
  • मस्जिद प्रशासन ने कहा है कि महिलाओं के साथ अश्लीलता को रोकने के लिए ये फैसला लिया गया है.
  • स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर लिखा कि जामा मस्जिद में महिलाओं की एंट्री रोकने का फैसला बिल्कुल गलत है.
  • जितना हक एक पुरुष को इबादत का है उतना ही एक महिला को भी हैं.
  • आगे स्वाति मालीवाल ने कहा कि मैं जामा मस्जिद के इमाम को नोटिस जारी कर रही हूं.
  • महिलाओं की एंट्री बैन करने का अधिकार इस तरह किसी को भी नहीं है.”
https://twitter.com/SwatiJaiHind/status/1595676481233252353?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1595676481233252353%7Ctwgr%5Ea7b8cc8c357cbaab79413da67a8b6dd5c98bbacf%7Ctwcon%5Es1_&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.abplive.com%2Fnews%2Findia%2Fjama-masjid-women-entry-banned-swati-maliwal-said-i-am-issuing-notice-to-imam-2266424

आखिर क्यों हुई एंट्री बैन: Jama Masjid Delhi News

  • जामा मस्जिद के PRO सबीउल्‍लाह खान का कहना हैं कि अकेली लड़कियां यहां आती हैं और लड़कों को टाइम देती हैं.
  • जो लडकियां यहां आकर गलत हरकतें करती हैं या वीडियो बनती हैं, उस चीज को रोकने के लिए एंट्री बैन की गई है.
  • PRO सबीउल्‍लाह खान ने कहा- आप अपनी फैमिली के साथ आएं, कोई पाबंदी नहीं हैं.
  • मैरिड कपल्‍स आएं तब भी कोई पाबंदी नहीं हैं मगर किसी को टाइम देकर यहां आना, मस्जिद को मीटिंग पॉइंट समझना, टिकटॉक वीडियोज बनाना और डांस करना ये गलत हैं.
  • ये सभी चीज़ किसी भी धर्मस्‍थल के लिए मुनासिब नहीं है, चाहे वह मस्जिद हो या मंदिर-गुरुद्वारा हो.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button