India Newsउत्तराखंड

Dehradun: मुख्यमंत्री आवास कूच करते कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस प्रशासन के साथ हुई झड़प

Dehradun: मुख्यमंत्री आवास कूच करते कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस प्रशासन के साथ हुई झड़प

Dehradun: ऐसे में मजबूरन उत्तराखंड कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री आवास कूच करना पड़ा।

  • पांच दिन से समय मांगने के बावजूद जब मुख्यमंत्री से उत्तराखंड कांग्रेस को जोशीमठ मामले में समय नहीं दिया गया।
  • कूच प्रकरण पर सफाई देते हुए उत्तराखंड कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने मंगलवार को बताया.
  • की उत्तराखंड कांग्रेस के अध्यक्ष के साथ एक प्रतिनिधिमंडल जोशीमठ मामले में सकारात्मक सुझाव देने को.
  • अधिकारियों के माध्यम से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मिलने का 6 जनवरी 2023 से समय मांग रहा था.
  • परंतु लगातार मुख्यमंत्री कार्यालय टालमटोल कर रहा था।
  • उन्होंने कहा कि जोशीमठ त्रासदी पर कांग्रेस जन भी उतने ही व्यथित हैं जितना कि सत्तापक्ष।

कुछ महत्वपूर्ण सुझाव: Dehradun

ऐसे में कुछ महत्वपूर्ण सुझाव एवं एक सकारात्मक, रचनात्मक और सहयोगात्मक विपक्ष की अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करने को उत्तराखंड कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री से मुलाकात करने के लिए प्रयासरत था, जब 4 दिन का समय बीत जाने के बावजूद समय नहीं मिला तो ऐसे में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने क्षुब्ध होकर प्रदेश अध्यक्ष करन मेहरा जी के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास कूच किया जहां पुलिसकर्मियों ने बैरिकेडिंग लगाकर कांग्रेस जनों को रोकने का भरसक प्रयास किया महिलाओं के साथ अभद्रता की गई। काफी देर की मशक्कत के बाद भी जब पुलिस प्रशासन ने कांग्रेस जनों को मुख्यमंत्री आवास जाने की इजाजत नहीं दी तो सभी कांग्रेस जन सड़क पर ही बैठ गए।

Read Also: Dehradun News: लाखों की चोरी के आरोपित सामान सहित गिरफ्तार

पूर्व अध्यक्ष /पूर्व नेता प्रतिपक्ष

  • इस दौरान पूर्व अध्यक्ष /पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं चकराता से विधायक प्रीतम सिंह, द्वाराहाट विधायक मदन बिष्ट, पूर्व विधायक विजयपाल सजवान एवं राजकुमार भी मौजूद रहे।
  • इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ,प्रीतम सिंह विजयपाल सजवान, पूरन रावत और गरिमा दसोनी ने वहां एकत्रित कांग्रेस जनों को संबोधित भी किया।
  • दोनों ही नेताओं ने जोशीमठ के अपने दौरे के अनुभव कांग्रेस जनों के संग साझा करते हुए इसे बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बताया।
  • माहरा ने कहा जोशीमठ आपदा पर ना अभी तक कोई कैबिनेट बैठक की गई है।
  • ना ही इसे आपदा घोषित किया गया और संवेदनहीनता की हद है की.
  • ना ही देश के प्रधानमंत्री ने स्थानीय जनता को सांत्वना देने को जोशीमठ प्रकरण में अभी तक एक भी शब्द ट्वीट नहीं किया है।

प्रीतम सिंह ने आरोप लगाया: Dehradun

  • प्रीतम सिंह ने आरोप लगाया जिन परिवारों को शिफ्ट किया जा रहा है.
  • उनको पर्याप्त मात्रा में न रसद दिया जा रहा है ना उनके सामान की कोई सुरक्षा की जा रही है।
  • उनके बच्चे दूध के अभाव में बिलख बिलख कर रो रहे हैं।
  • सरकार के इंतजाम नाकाफी है।
  • कांग्रेस जन मुख्यमंत्री कार्यालय से समय मिलने के बाद ही धरने से उठे।

इस दौरान उपाध्यक्ष संगठन मथुरा दत्त जोशी, संगठन महामंत्री विजय सारस्वत, महामंत्री याकूब सिद्दीकी, गोदावरी थापली नवीन जोशी, पूर्व विधायक विजयपाल सजवान, एवं राजकुमार, मीडिया प्रभारी पीके अग्रवाल, पूरन रावत, महेंद्र नेगी, शीशपाल सिंह बिष्ट, अमरजीत सिंह, सौरभ ममगई आदि उपस्थित थे।

Show More

Related Articles

Back to top button