India NewsState Newsझारखण्ड

Hemant Soren Govt: भाजपा ने हेमंत सरकार के खिलाफ जारी किया आरोप पत्र

Hemant Soren Govt: राज्य सरकार के तीन बरस पूरे होने पर प्रदेश भाजपा ने गुरुवार को आरोप पत्र जारी किया है। प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक...

Hemant Soren Govt: रांची, 29 दिसंबर, राज्य सरकार के तीन बरस पूरे होने पर प्रदेश भाजपा ने गुरुवार को आरोप पत्र जारी किया है। प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक प्रकाश ने पार्टी कार्यालय में इसे जारी करते हुए सरकार से इस पर जवाब मांगा।

राज्य सरकार संपोषित भ्रष्टाचार जारी है: Hemant Soren Govt

उन्होंने कहा कि राज्य में झामुमो, कांग्रेस और राजद की अगुवाई वाली सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है। राज्य सरकार संपोषित भ्रष्टाचार जारी है। मुख्यमंत्री और उनके करीबियों, परिजनों को जनता ने लाभान्वित होते देखा है। सरकार बताए कि पंकज मिश्रा, अमित अग्रवाल, प्रेम प्रकाश से उसका नाता क्या है। अमित ने कहीं झारखंड को ही लूटकर संपत्ति तो नहीं बनाई है।

उन्होंने कहा कि ट्रांसफर, पोस्टिंग से अवैध कमाई हो रही है और कई इससे लाभ उठा रहे हैं। तीन वर्षों से हर मोर्चे पर विफल, झूठ, लूट और भ्रष्टाचार में लिप्त सरकार आज जारी आरोप पत्र पर जवाब दें। यह आरोप पत्र भाजपा का नहीं, साढ़े तीन करोड़ जनता का है। पत्रकार वार्ता से पहले भारत के सोशल मीडिया की टीम की ओर से जारी क्लिप दिखाए गए। इसमें विधि व्यवस्था, करप्शन, मतांतरण, रोजगार और अन्य पर राज्य सरकार को घेरा गया।

शराब के मामले में झारखंड को कितना नुकसान हुआ

प्रकाश ने कहा कि राज्य में लूट पर लूट मची हुई है। सीओ कार्यालय से सचिवालय तक लोग त्रस्त हैं। शराब के मामले में झारखंड को कितना नुकसान हुआ है, सरकार इसे बताए। छत्तीसगढ़ के किस शराब माफिया के कारण झारखंड को राजस्व की हानि हुई है, मुख्यमंत्री बताएं। कोयला, बालू की लूट मची है। बालू तो कालाबाजारी से ही लोगों को मिल रहा। प्रकृति प्रदत्त पानी, पहाड़, पर्वत, खनिज संपदा को लूटने, लुटवाने का कार्य जारी है। वनों की कटाई, खनिज संपदा का अवैध खनन हो रहा। आर्थिक व्यवस्था चरमराई हुई है। गरीबों को आवास, बालू नहीं मिला रहा पर मुख्यमंत्री के काफिले के लिए गाडियां, मंत्रियों के बंगले बनाने को पैसे हैं।

अध्यक्ष ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए एक रुपये में लाखों की संपत्ति की रजिस्ट्री पूर्व में होती थी।आपदा से बचने और दूसरे कामों के लिए किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ मिलता था, जिसे इस सरकार ने बंद करा दिया। 1932 के खतियान और नियोजन नीति पर यह सरकार राजनीति करती रही। हर साल पांच लाख युवाओं को रोजगार नहीं तो संन्यास के वादे हुए। सरकार चाहे तो खुद से संकल्प लाकर नियोजन नीति ला सकती थी पर उसकी मंशा ही नहीं। पिछड़ों के हित की बात करने वाली यह सरकार उनकी विरोधी ही है। बगैर आरक्षण के पंचायत चुनाव कराए। नगर निकाय के चुनाव से वह बच रही।

कानून व्यवस्था के मामले पर भी राज्य में बदतर स्थिति है

प्रकाश ने कहा कि कानून व्यवस्था के मामले पर भी राज्य में बदतर स्थिति है। पिछले तीन वर्षों में देश में सबसे अधिक आपराधिक घटनाएं (एक लाख 88 हजार से अधिक) इसी राज्य में हुई हैं। 5200 लोगों की हत्या, महिलाओं के खिलाफ अनाचार, दुराचार के 5300 केस, अपहरण की 5200 घटनाएं दर्ज हुई हैं। 50-50 टुकडों में बेटियों, बहनों को काटा जा रहा है। संताल परगना में झामुमो के नेतृत्व में बांग्लादेशी घुसपैठियों को संरक्षण मिल रहा है। डेमोग्राफी बदल रही है। तुष्टिकरण की राजनीति हो रही है।

एक सवाल के जवाब में दीपक प्रकाश ने कहा कि आने वाले रामगढ़ विधानसभा के उपचुनाव में जनता निश्चित तौर पर इस सरकार के खिलाफ आक्रोश जताएगी। गांवों में पंचायत चुनाव में यह दिख चुका है, अब शहरों में भी यह दिखेगा। हेमंत सोरेन के खिलाफ ईडी, सीबीआई जांच के सवाल पर कहा कि कानून अपना काम करेगा ही। अगर किसी ने गलत किया है तो केंद्रीय एजेंसियां अपने स्तर से अपना काम तो करेंगी ही।

प्रेस वार्ता में पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा, मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक सहित अन्य भी उपस्थित थे।

Show More

Related Articles

Back to top button