India News

Charles Sobhraj: आखिर बिकिनी किलर तिहाड़ जेल से कैसे भाग निकला…

Charles Sobhraj: दुनिया का मोस्ट वांटेड क्रिमिनल भारत की सबसे सुरक्षित जेलों में से एक तिहाड़ जेल से फरार हो चुका था. वो क्रिमिनल कोई...

Charles Sobhraj: अप्रैल 1986, दो सौ इकहत्तर एकड़ में फैली तिहाड़ जेल के जेल नंबर तीन में कैदियों को एक बेहोश पड़ी बिल्ली मिली. जेल के एक अधिकारी ने बिल्ली की देखभाल की और बिल्ली ठीक भी हो गयी. मगर किसी ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया की इस बिल्ली को आखिर हुआ क्या था. लेकिन इस घटना के कुछ दिनों बाद ही तिहाड़ जेल (charles sobhraj escape from tihar jail) में कुछ ऐसा हुआ कि पूरे देश में हंगामा मच गया.

  • दुनिया का मोस्ट वांटेड क्रिमिनल भारत की सबसे सुरक्षित जेलों में से एक तिहाड़ जेल से फरार हो चुका था.
  • वो क्रिमिनल कोई और नहीं बल्कि चार्ल्स शोभराज था जिसे दुनिया बिकिनी किलर के नाम से भी जानती हैं.
  • अगर उस बिल्ली की हालत पर किसी ने ध्यान दिया होता तो भारत के सुरक्षा तंत्र को उस समय इतनी बदनामी न झेलनी पड़ती.

चार्ल्स के तिहाड़ जेल से भागने का किस्सा: Charles Sobhraj escape from tihar jail

  • चार्ल्स होन्ग कोंग, साउथ ईस्ट एशिया, टर्की, ईरान ओर ग्रीस में वांटेड लिस्ट में आ चुका था ओर अब उसका अगला ठिकाना था भारत.
  • अक्टूबर 1971 में पहली बार चार्ल्स ने भारत में अपनी करतूतों को अंजाम दिया.
  • और यहाँ से शुरू होता हैं चार्ल्स का भारत में लूट पाट करने का सफर.
  • आपको जानकार हैरानीं होगी कि वो Indian Jail और Nepal Jail में अपनी ज़िंदगी के 40 साल गुज़ार चुका है.
  • लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि Charles Sobhraj 6 बार Police के हाथों भागने में भी कामयाब रहा था.
  1. 1976 जुलाई की बात है।
  2. नई दिल्ली में शोभराज और उसकी तीन महिला साथियों ने कुछ फ्रांस के छात्रों को फंसाया और उनके tour guide बन गए।
  3. इसके बाद पर्यटकों को चार्ल्स और उसके सहयोगियों ने जहर की गोलियां खिला दीं।
  4. मगर कुछ छात्र ने पुलिस को बुला लिया था।
  5. शोभराज और उसका पूरा गैंग पकड़ा गया।
  6. मुकदमा चला और चार्ल्स को 10 साल की जेल हुई।
    10 साल की सजा जब खत्म होने को तो उसने जेल से भागने की प्लानिंग शुरू कर दी।

चार्ल्स शोभराज और उस बिल्ली का कनेक्शन: Bikini Killer

  • बस यही से शुरू होती है चार्ल्स के फिम्ली स्टाइल में तिहाड़ जेल से भागने का किस्सा.
  • अब जिस बिल्ली की बात हमने शुरू में की थी असल मेमन चार्ल्स ने उस बिल्ली पर अपनी दवाईओं का टेस्ट किया था.
  • ताकि वो पता कर सके की जेल स्टाफ पर उस दवा का सर कितनी दिएर तक रहेगा.
  • जिसके बाद चार्ल्स का एक जानने वाला जो ड्रग्स पडडलेर था वो मिठाई के डब्बे लेके तिहाड़ जेल पहुँचता हैं.
  • चार्ल्स ने फिर अपने कथित जन्मदिन के मौके पर जेल में एक पार्टी रखी.
  • उस पार्टी में उसने कैदियों और सुरक्षाकर्मियों सभी को बुलाया.
  • मिठाई, अंगूर, बिस्कुट आदि खिलाया जिसमें नशीला पदार्थ मिला हुआ था.
  • सभी के बेहोश होने के बाद शोभराज अपने गैंग के साथ तिहाड़ जेल से भागने में कामयाब हो गया.

10 साल और तिहाड़ जेल में: Bikini Killer Story

  • बीबीसी ने अपनी एक रिपोर्ट के मुताबिक शोभराज पकड़े जाने के लिए ही भागा था.
  • वह चाहता था कि जेल से भागने के मामले में उसपर मुकदमा चले और उसकी सजा और बढ़ जाए.
  • ऐसा वो इसलिए चाहता था ताकि वे थाईलैंड में प्रत्यर्पण से बच सके, जहां वो पांच हत्याओं के मामले में वॉन्टेड था और सजा के रूप में उसको मृत्युदंड मिलना लगभग तय था.
  • उसका ये प्लान succesfull रहा। जेल से भागने के लिए उसे 10 साल और तिहाड़ जेल में रहना पड़ा.
  • 1997 में उसकी रिहाई हो गयी और भारत ने उसे फ्रांस को सौप दिया.
  • फिलहाल Nepal Jail से छूटने के बाद Charles Sobhraj दोबारा अपने मुल्क France लौट गया है.

Show More

Related Articles

Back to top button