अर्थ जग़त

KYC for Insurance Policy: KYC अनिवार्य है बीमा पॉलिसी खरीदते वक्त, जानिए किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी

KYC for Insurance Policy: IRDAI द्वारा भारत में इंश्योरेंस का रेगुलेशन किया जाता है. IRDAI देश में इंश्योरेंस सेक्टर में रूल्स में कुछ...

KYC for Insurance Policy: IRDAI द्वारा भारत में इंश्योरेंस का रेगुलेशन किया जाता है. IRDAI देश में इंश्योरेंस सेक्टर में रूल्स में कुछ चेंज किए गए हैं. इसके मुताबिक अब 2023 में पॉलिसी खरीदने के लिए अब KYC को मेंडटरी कर दिया गया है. अगर आप अपनी ओल्ड पॉलिसी को रिन्यू कराना चाहते हैं तो इसके लिए भी केवाईसी करवाना बहुत जरूरी है. यह रूल्स जनरल इंश्योरेंस (General Insurance), हेल्थ इंश्योरेंस (Health Insurance), होम इंश्योरेंस (Home Insurance), कार इंश्योरेंस (Car Insurance), समेत सभी इंश्योरेंस के लिए लागू होगा.

केवाईसी अपडेट को क्यों किया गया है अनिवार्य?: KYC for Insurance Policy

आपको बता दें कि देश में इंश्योरेंस रेगुलेशन करने वाली इंस्टीटूशन IRDAI (Insurance Regulatory Development Authority of India) ने KYC को इसलिए जरूरी किया है जिससे कस्टमर्स को फ्रॉड से सेफ रखा जा सके. इसके साथ ही मनी लॉन्ड्रिंग के मामलों से बचने में भी इससे हेल्प मिलेगी. इसके साथ ही इंश्योरेंस कंपनियां को यह जानकारी मिलेगी कि कौन सा कस्टमर हाई, मीडियम और लो रिस्क कैटेगरी में आता है. अगर आप अपनी 1 जनवरी, 2023 के बाद आप ओल्ड पॉलिसी को रिन्यू करवाने के लिए एड्रेस प्रूफ, फोटो आईडी जैसे डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ेगी. अगर आप भी नई पॉलिसी खरीदने जा रहे हैं या ओल्ड को रिन्यू करने जा रहे हैं तो हम आपको उन डॉक्यूमेंट्स के बारे में जानकारी दे रहे है जिसके जरिए आप आसानी से KYC कर सकते हैं. चलो जानते हैं इन डॉक्यूमेंट्स के बारे में-

इन डॉक्यूमेंट्स की पड़ेगी जरूरत-

आधार कार्ड (Aadhaar Card)
पैन कार्ड (Pan Card)
पासपोर्ट (Passport)
वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card)
ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License)
नरेगा जॉब कार्ड (किसी सरकारी अधिकारी के साइन वाला)
नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर का लेटर
कब तक KYC करवाना है जरूरी-
IRDAI के रूल्स के अनुसार जिन लोगों ने पहले से पॉलिसी ले रखी है उन्हें अलग-अलग कंपनियों द्वारा 2 साल का टाइम मिलेगा. इस दौरान सभी कस्टमर्स को KYC करवाना जरूरी है. वहीं हाई रिस्क लोगों को कंपनी एक साल का टाइम देगी जिसमें उन्हें KYC करवाना बहुत ही जरूरी होगा.

Show More

Related Articles

Back to top button