India Newsचुनावमणिपुर

Mission Assam: पीएम मोदी ने असम में 7 कैंसर अस्पतालों का किया उद्घाटन

Mission Assam: आज जब देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, तब हम इस धरती के महान सपूत लचित बोरफुकान की 400वीं जन्म जयंती भी मना रहे हैं।

Mission Assam: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज ‘शांति, एकता और विकास रैली’ में शामिल होने के लिए कार्बी आंगलोंग जिले के दीफू पहुंचे।

  • 7 नए कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखा
  • 2950 अमृत सरोवर परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे
  • शिक्षा के लिए 500 करोड़ की परियोजना
  • रैली में सुरक्षा घेरा तोड़कर वहां मौजूद लोगों और
  • बच्चों से हाथ मिलाते नजर आए पीएम मोदी

Mission Assam: लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने क्या कहा?

लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि आज यहां 1,000 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्यास किया गया है। ये सारे संस्थान यहां के युवाओं को नए अवसर देने वाले हैं।

आज जो शिलान्यास हुआ है वे सिर्फ इमारत का शिलान्यास नहीं है
बल्कि मेरे नौजवानों का शिलान्यास है
उच्च शिक्षा के लिए अब यहीं पर उचित व्यवस्था होने से
अब गरीब से गरीब व्यक्ति भी अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दे पाएगा

मोदी ने कहा कि ये सुखद संयोग है कि आज जब देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, तब हम इस धरती के महान सपूत लचित बोरफुकान की 400वीं जन्म जयंती भी मना रहे हैं।

Mission Assam: असम में भी अमृत सरोवर बनाने का काम शुरू

पीएम ने बताया कि आज असम में भी 2600 से अधिक अमृत सरोवर बनाने का काम शुरु हो रहा है। जो पूरी तरह से जनभागीदारी पर आधारित है।

  • ऐसे सरोवरों की तो जनजातीय समाज में एक समृद्ध परंपरा रही है
  • इससे गांवों में पानी के भंडार तो बनेंगे ही
  • इसके साथ-साथ ये कमाई के भी स्रोत बनेंगे

हर घर तक पहुंचेगा पानी

उन्होंने कहा की जल जीवन मिशन के शुरु होने से पहले तक यहां 2 प्रतिशत से कम गांवों के घरों में पाइप से पानी पहुंचता था, वहीं अब 40 प्रतिशत परिवारों तक पाइप से पानी पहुंच चुका है। मुझे विश्वास है कि जल्द से जल्द असम के हर घर तक पाइप से पानी पहुंचाने लगेगा।

उन्होंने आगे कहा, ‘आज पूरे देश में हिंसा,

अराजकता का समाधान किया जा रहा है,

कभी इस क्षेत्र की चर्चा होती थी

तो बम और गोलियों की आवाज़ सुनाई देती थी

पिछले वर्ष सितंबर में कार्बी आंगलोंग के अनेक संगठन शांति और विकास के रास्ते पर आगे बढ़ने का कदम उठा चुके हैं। कार्बी आंगलोंग या दूसरे जनजातीय क्षेत्रों में हम विकास और विश्वास की नीति पर ही काम कर रहे हैं।

सीमा से जुड़े मामलों का समाधान हो रहा है

सबका साथ, सबका विकास की भावना के साथ आज सीमा से जुड़े मामलों का समाधान खोजा जा रहा है। असम और मेघालय के बीच बनी सहमति दूसरे मामलों को भी प्रोत्साहित करेगी।

  • इससे इस पूरे क्षेत्र के विकास की आकांक्षाओं को
  • बल असम की स्थायी शांति और तेज विकास
  • के लिए जो समझौता हुआ था
  • उसको जमीन पर उतारने का काम आज तेज गति से चल रहा है

गौरतलब है की ये कैंसर अस्पताल डिब्रूगढ़, कोकराझार, बारपेटा, दरांग, तेजपुर, लखीमपुर और जोरहाट में बने हैं। बता दें कि पीएम मोदी के असम दौरे के कारण असम सरकार ने विशेष रूप से 28 अप्रैल को दोनों जिलों में राजकीय अवकाश घोषित किया है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button