India News

Rahul Gandhi: अपनी शादी पर पहली बार बोले राहुल गाँधी, बताया कैसी लड़की चाहिए

Rahul Gandhi: भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी की शादी पर सवाल हुआ। बेहद दिलचस्प जवाब था। यात्रा के दौरान राहुल अपनी दादी...

Rahul Gandhi: भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी की शादी पर सवाल हुआ। बेहद दिलचस्प जवाब था। यात्रा के दौरान राहुल अपनी दादी इंदिरा गांधी के बारे में बात कर रहे थे। उन्होंने कहा- इंदिरा गांधी उनके जीवन का प्यार हैं, उनकी दूसरी मां हैं।

इसी जवाब पर फिर सवाल हुआ: Rahul Gandhi

क्या ऐसी ही महिला से शादी करना चाहते हैं, जिसमें आपकी दादी जैसे गुण हों। शादी के लिए क्या ऐसी ही लड़की चाहिए। इस पर राहुल ने कहा- यह दिलचस्प सवाल है। मैं ऐसी महिला चाहूंगा, जिसमें मेरी मां और दादी… दोनों के गुण हों। वह अच्छा रहेगा।
राहुल ने शादी के सवाल पर जवाब मुंबई में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दिया। वे यू ट्यूब चैनल म्याशेबल इंडिया के बॉम्बे जर्नी स्पेशल एपिसोड में इंटरव्यू दे रहे थे। इंटरव्यू का वीडियो मंगलवार को यूट्यूब पर आया।

सवाल- क्या कभी यह बात दिल पर लगी कोई पप्पू बोलता है तो?

राहुल- नहीं, ये प्रोपेगैंडा कैंपेन है और यह उनके दिल की बात है। ये उन लोगों के भीतर डर है, जिनकी लाइफ में कुछ नहीं हो रहा है।

सवाल- आपकी दादी को आयरन लेडी ऑफ इंडिया (Iron Lady Of India) कहा जाता है: Rahul Gandhi

राहुल- उन्हें गूंगी गुड़िया भी कहा गया था। जो लोग मुझ पर 24 घंटे हमला करते हैं, उन्हीं लोगों ने इंदिराजी को गूंगी गुड़िया कहा था। फिर वह महिला आयरन लेडी बन गईं। वो हमेशा से ही आयरन लेडी थीं।
सवाल- क्या आपका साइकिलिंग में भी काफी ज्यादा इंट्रेस्ट है?
राहुल- हां है, मैं कुछ न कुछ स्पोर्ट्स या तपस्या करता रहता हूं। मेरे पिता एक पायलट थे। मैंने उनसे सीखा। ये प्लेन उड़ाना आपके एटीट्यूड और वे ऑफ थिंकिंग है। मेरे पिता ने मुझसे एक बात कही थी। उन्होंने कहा था कि तुम प्लेन उड़ाना, प्लेन तुम्हें उड़ाए…ऐसा मत होने देना। मायने ये थे कि आप यानी पायलट हमेशा प्लेन के आगे रहता है। पायलट 30 हजार की ऊंचाई से चीजों को देखता है। जो आप उस ऊंचाई से देखते हैं, वह आपको सड़क पर दिखाई नहीं देंगी। पायलट हमेशा ऊंचाई से देखता है। आप देख पाते हैं कि समस्याएं कहां हैं।

सवाल- 2010 में आपने ट्रेन से एक यात्रा शुरू की थी, क्या मोटिवेशन था?: Rahul Gandhi

राहुल- 2010 से नहीं। मैं हमेशा ये यात्राएं करता हूं। कुछ राजनीतिक कारणों से प्रेस मुझे निशाना बनाता है। जो मैं शुरू करता हूं, उसमें अवरोध खड़ा करता है। जो भी मैं करता हूं, उसके कुछ चुनिंदा पहलू ही प्रेस दिखाता है। मैं यह जानना चाहता हूं कि एक अप्रवासी मजदूर होना क्या होता है। मैं थर्ड क्लास में बैठा, उसमें किसी गोरखपुर से आए पेंटर से बात की। जो भी मेरे सामने आता है, उसे समझना चाहता हूं।

सवाल- आपके पास कार और बाइक्स हैं? लैंड क्रूजर है?: Rahul Gandhi

राहुल- वास्तव में मैं किसी कार का मालिक नहीं हूं। मेरी मां की CRV है, उसे ही चलाता हूं। मैं कार में इंट्रेस्टेड कभी नहीं रहा। हां, ड्राइविंग में मेरा इंट्रेस्ट है। मेरे पास मोटर बाइक है। मैं मोटर बाइक में इंट्रेस्टेड नहीं हूं, पर उसे चलाना मुझे पसंद है। आप मुझसे कार, इंजिन के बारे में बात करिए। मैं 90 फीसदी बातें सही बता सकता हूं। मैं कार ठीक कर सकता है। मैं चलना पसंद करता हूं। मैं हवा, पानी या जमीन…मुझे तेज चलना पसंद है। मुझे पुरानी लैम्ब्रेटा भी उतनी ही पसंद है, जितनी कि R-1। RD-350 पसंद है। दो स्ट्रोक होती है। खतरनाक है। कुछ देर वो कुछ नहीं करती और अचानक वो भागती है। RS-250 मेरी जिंदगी का प्यार है। मैं उसे लंदन में पढ़ाई के दौरान चलाता था।

सवाल- इंडिया में कौन सी जगह से आप सबसे ज्यादा जुड़े हुए हैं? दिल्ली-मुंबई?

जवाब- दिल्ली, लेकिन वहां राइडिंग बहुत खतरनाक है। मैं साइकिलिंग को मोटर साइकिलिंग पर ज्यादा तरजीह देता हूं। उसमें आपके शरीर की ताकत लगती है। मुंबई में मेरे पिता का जन्म हुआ था। मैंने यहां ज्यादा वक्त नहीं गुजारा है। मैं यहां के फूड के बारे में भी नहीं जानता, क्योंकि खाने को लेकर सतर्क रहता हूं। ज्यादा ऑयली नहीं खाता। ज्यादा शुगर भी नहीं खाता।

 

Show More

Related Articles

Back to top button