India NewsState Newsदिल्ली

Shraddha Murder Case Update: श्रद्धा ने 2020 में पुलिस से की थी शिकायत

Shraddha Murder Case Update: श्रद्धा हत्याकांड की जांच कर रही दिल्ली पुलिस पुख्ता साक्ष्य इकट्ठा करने में जुटी हुई है...

Shraddha Murder Case Update: नई दिल्ली, 23 नवंबर, श्रद्धा हत्याकांड की जांच कर रही दिल्ली पुलिस पुख्ता साक्ष्य इकट्ठा करने में जुटी हुई है। ऐसे में श्रद्धा का दो साल पहले लिखा लेटर भी मुंबई पुलिस के पास मिला है। यह पत्र सोशल मीडिया पर है, हालांकि यह लेटर श्रद्धा ने ही लिखा है इसकी पुष्टि अभी नहीं हुई है।

आफताब ने टुकड़ों में काटकर हत्या करने की धमकी दी थी: Shraddha Murder Case Update

लेटर के अनुसार, श्रद्धा वालकर को दो साल पहले ही आफताब ने टुकड़ों में काटकर हत्या करने की धमकी दी थी। ऐसी शिकायत महाराष्ट्र के वसई में पुलिस के पास साल 2020 में दर्ज की गई थी। शिकायत में श्रद्धा ने लिखा था कि, “आज उसने मुझे जान से मारने की कोशिश की और वह मुझे डराता है, मुझे ब्लैकमेल करता है कि वह मुझे मार डालेगा, मेरे टुकड़े-टुकड़े करके फेंक देगा। वह मेरे साथ पिछले छह महीने से मारपीट कर रहा है लेकिन मुझमें इतनी हिम्मत नहीं थी कि मैं पुलिस में उसकी शिकायत कर सकूं क्योंकि वह मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा था।

” श्रद्धा ने शिकायत में लिखा था, “आफताब के माता-पिता उसके हिंसक व्यवहार के बारे में जानते थे और वे उससे मिलने के लिए हफ्ते में एक बार घर आते थे। पिटाई के बाद भी हम एक साथ रहे, क्योंकि हम आने वाले दिनों में शादी करने वाले थे। लेकिन अब मैं उसके साथ नहीं रहना चाहती लेकिन वो मुझे मारने की धमकी दे रहा है।”

श्रद्धा ने अपने दोस्त करण को पिटाई के बारे में बताया था

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों श्रद्धा के दोस्तों ने भी पुलिस को बताया था कि 23 नवंबर 2020 को श्रद्धा ने अपने दोस्त करण को पिटाई के बारे में बताया था और चेहरे पर चोट के निशान वाली तस्वीर भी साझा की थी। इसके बाद ही श्रद्धा अस्पताल में जांच के लिए गई थी।

वहीं सूत्रों की माने तो श्रद्धा ने पिटाई के बाद पुलिस को शिकायत में लिखा था कि उसका परिवार उसके हिंसक व्यवहार के बारे में जानता है। पुलिस अब इस शिकायत और वसई पुलिस की ओर से की गई कार्रवाई की पुष्टि कर रही है। आफताब के माता-पिता भी बयान दर्ज कराने के लिए दिल्ली में हैं। बताया जाता है कि श्रद्धा हत्याकांड में अभी तक पुलिस 17 लोगों का बयान दर्ज कर चुकी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button