बजट 202

Union Budget 2023-24: निवेशकों को बजट से शेयर बाजार में उम्मीदें, सरकार रोजगार बढ़ाने पर भी जोर देगी

Union Budget 2023-24: 1 फरवरी 2023 को संसद में केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (,Finance Minister, Nirmala Sitharaman) मोदी सरकार...

Union Budget 2023-24: 1 फरवरी 2023 को संसद में केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (,Finance Minister, Nirmala Sitharaman) मोदी सरकार का लास्ट पूर्ण बजट पेश करने जा रही है. इस बजट को लेकर हर सेक्टर के लोगों में काफी उत्साह और जोश है लोगों को इस बजट से काफी उम्मीदें हैं. और साथ ही आम जनता और निवेशक बजट (Investor Budget) से अपने लिए लोग खास उम्मीद लगाए बैठे है. भारतीय शेयर बाजार (Share Market) के इन्वेस्टर्स को इस बार नियमित बजट पेश होने की भी उम्मीद है. 2023 के इस बजट में और क्या खास होगा. बजट (Balanced Budget) आने से मार्किट वैल्यू पर खास असर पड़ने की सम्भावना है.

इंडियन इकॉनमी को बेहतर बनाने पर जोर: Union Budget 2023-24

देश में सभी तरह निवेश में अपनी भूमिका देने वाले इन्वेस्टर्स को आम बजट में व्यापार बढ़ाने, बुनियादी ढांचे (Basic Infrastructure) पर एक्सपेंस बढ़ाने, हानि पर दक्षता पाने और भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को श्रेष्ठतर बनाने के लिए सरकार से काफी उम्मीद है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्टॉक मार्केट (Stock Market) में निवेश करने वाले इन्वेस्टर्स को काफी उम्मीद है, संतुलित बजट (Balanced Budget) आने से मार्किट वैल्यू पर खास असर पड़ने की सम्भावना है.

शेयर बाजारों में बजट से पहले सुस्ती

आपको बता दें कि, इस सामान्य बजट से पहले शेयर बाजारों में गिरावट का माहौल चल रहा है. जनवरी के महीने में BSE सेंसेक्स (BSE Sensex) लगभग सपाट सा चल रहा है. वही काफी कंपनियों के तिमाही रिजल्ट्स भी बाजारों को अत्यन्त उत्तेजित करने में बहुत साबित नहीं रहे है. आईटी और बैंक जैसे कुछ सूचकांकों में स्वीकारात्मक हलचल देखने को भी मिल रही है.

बाजारों से निकाले 16,500 करोड़

इस महीने विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (Foreign Portfolio Investors) ने बड़ी संख्या में अपना पैसा बाजार से निकाल लिया है. घरेलू शेयर बाजारों (Domestic Stock Markets ) से 16,500 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान हुआ है. इसके अतिरिक्त मुद्राप्रसार और वैश्विक मंदी (Global Recession ) की चिंता से भी इन्वेस्टर्स सावधान हैं.

लास्ट 10 वर्षों में क्या रही स्थिति: Union Budget 2023-24

शेयर बाजारों में आम बजट से पहले आमतौर पर गिरावट का माहौल देखने को नजर आ रहा है. 1 फरवरी को वित्त वर्ष 2023-24 का बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करने वाली हैं. कुल मिलाकर पिछले 10 सालों में 6वें बजट से पहले तेजी देखने को क्यों मिल रही है, और बजट के बाद पिछले 10 सालों में 6 बार गिरावट हुई है. साल 2023 का बजट बहुत खास आने वाला है ऐसी लोगों की इस आने वाल्व बजट से उम्मीदें हैं. आपको क्या लगता है की इस बजट में क्या कुछ खास होने वाला है आपको क्या लगता है की इस बजट में कुछ सुधार होंगे या हर बार की तरह ये बजट भी वही रह जायेगा.

Show More

Related Articles

Back to top button