India NewsState Newsमध्य प्रदेश

Water Vision 2047: मध्य प्रदेश की राजधानी में राज्यों के जल मंत्रियों का सम्मेलन शुरू, प्रधानमंत्री मोदी ने किया संबोधित

Water Vision 2047: मध्य प्रदेश की राजधानी में राज्यों के जल मंत्रियों का सम्मेलन शुरू, प्रधानमंत्री मोदी ने किया संबोधित

Water Vision 2047: जल संरक्षण के लिए राज्यों के सामूहिक प्रयास लक्ष्यों को प्राप्त करने में बहुत सहायक होंगे।

  • इस सम्मेलन को वर्चुअली संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि-
  • आज भारत जल सुरक्षा में अभूतपूर्व काम और निवेश कर रहा है।
  • जल संरक्षण के लिए राज्यों के सामूहिक प्रयास लक्ष्यों को प्राप्त करने में बहुत सहायक होंगे।
  • उन्होंने कहा कि जियो मैपिंग और जियो सेंसिंग जैसी तकनीक जल संरक्षण के कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।
  • कई राज्यों ने इसमें अच्छा काम किया है और कई राज्य इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।
  • मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जल संरक्षण के लिए जन भागीदारी की सोच को जनता के मन में जगाना है।
  • हम इस दिशा में जितना ज़्यादा प्रयास करेंगे उतना ही अधिक प्रभाव पैदा होगा।
  • जल संरक्षण के लिए देश हर जिले में 75 अमृत सरोवर बना रहा है
  • और अब तक 25,000 अमृत सरोवर बन भी चुके हैं।

प्रथम अखिल भारतीय वार्षिक:Water Vision 2047

जल पर आयोजित किया जा रहा प्रथम अखिल भारतीय वार्षिक राज्य मंत्रियों का सम्मेलन गुरुवार सुबह राजधानी भोपाल स्थित कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में शुरू हुआ। देश की जल संबंधी समस्याओं पर मंथन करके राज्यों के जल मंत्री भोपाल में दो दिवसीय सम्मेलन में रोडमैप तैयार करने जा रहे हैं। इसमें वाटर विजन एट 2047 पर संवाद होगा। पानी बचाने से जुड़े हर पहलू पर चर्चा होगी। साथ ही जिन क्षेत्रों में पानी की खपत अधिक है उसे कम करने और संतुलन बैठाने के विषय पर भी चर्चा होगी। सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल राज्यों के जल मंत्रियों के साथ हिस्सा ले रहे हैं। सुबह 10 बजे यह कार्यक्रम शुरू हुआ। इस कार्यक्रम से पीएम मोदी भी वर्चुअली जुड़े।

Show More

Related Articles

Back to top button