India Newsसेहत

winter sunshine: सर्दियों की धूप का अधिकतम लाभ कैसे उठाएं

winter sunshine: सुबह-सुबह नंगे पैर घास पर चलने से आंखों की रोशनी और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसके अलावा भी सेहत के लि...

winter sunshine: सुबह-सुबह नंगे पैर घास पर चलने से आंखों की रोशनी और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसके अलावा भी सेहत के लिए कई फायदे हैं। भारतीय उपमहाद्वीप में पूरे वर्ष सूर्य का प्रकाश रहता है। प्रकाश अभी भी उगता है और सर्दियों में भी सुबह और मध्य दोपहर में सेट होता है, जो उस समय को बाहरी गतिविधियों के लिए एकदम सही बनाता है।

जब आप नंगे पैर चलते हैं, तो जमीन सीधे आपकी त्वचा के संपर्क में होती है, और इसमें मौजूद नकारात्मक आयन आपके शरीर में सकारात्मक आयनों को संतुलित करने में मदद कर सकते हैं, एक संतुलन स्थापित करते हैं जो आपके स्वास्थ्य को कई तरह से लाभ पहुंचाता है। यह आपके पैरों में दबाव रिसेप्टर्स को सक्रिय करता है, जो बदले में आपके शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है और आपके स्वास्थ्य को बढ़ाता है।

यहाँ कुछ लाभ दिए गए हैं जिन पर आप भरोसा कर सकते हैं: winter sunshine

  1. अनिद्रा को ठीक करता है
    नींद न आने का दूसरा नाम अनिद्रा, नींद न आने की समस्या है। अगर आपको सोने में परेशानी हो रही है या रात में नींद में खलल पड़ा है तो नंगे पांव घास पर चलना शुरू करें।

 

  1. आंखों की रोशनी में सुधार करता है
    आपके पैरों में एक दबाव बिंदु होता है जो आपकी आंखों की नसों से संबंधित माना जाता है। यह दबाव बिंदु सुबह नंगे पैर घास पर चलने से उत्तेजित हो सकता है, जो आपकी समग्र दृष्टि में सहायता करेगा।
  2. नर्वस सिस्टम में सुधार करता है
    घास पर नंगे पैर चलने से भी पैरों पर विशिष्ट एक्यूपंक्चर बिंदु उत्तेजित होते हैं जो बदले में नसों और नसों को सक्रिय करने में मदद करते हैं, तंत्रिका तंत्र को बढ़ाते हैं।
  3. ब्लड प्रेशर को मेंटेन रखता है
    जब आप घास पर नंगे पैर चलते हैं, तो आपका तनाव का स्तर तुरंत कम हो जाता है क्योंकि पैरों की नसों की उत्तेजना से तनाव दूर हो जाता है। जब आपका तनाव का स्तर कम होता है तो आपका रक्तचाप भी नियंत्रित रहता है।
  4. महिलाओं में मासिक धर्म और हार्मोनल मुद्दों में मदद करता है
    हार्मोनल असंतुलन मानव शरीर में कई मानसिक और शारीरिक समस्याओं को ट्रिगर कर सकता है। जिन महिलाओं को प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम होता है, उन्हें मिजाज, सिरदर्द, पेट में दर्द, वजन बढ़ना, कब्ज, मुंहासे और कुछ अन्य लक्षणों का अनुभव हो सकता है।

विशेषज्ञों के अनुसार, सुबह-सुबह घास पर नंगे पैर चलने का सबसे अच्छा समय है, क्योंकि इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और दृष्टि बढ़ती है। इतना ही नहीं बल्कि घास पर नंगे पैर चलने से आपके शरीर की सेहत पर कई सकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं।

 

 

Show More

Related Articles

Back to top button