Sports News

Wrestlers Protest: पहलवानों का दंगल नहीं थमा, कमेटी से नाखुश खिलाड़ियों ने कहा- ‘हमें आश्वासन दिया गया था कि…’

Wrestlers Protest: यौन उत्पीड़न और पहलवानों के धरने के आरोपों के बाद सरकार ने कुश्ती संघ का कामकाज देखने के लिए कमेटी बनाई थी...

Wrestlers Protest: यौन उत्पीड़न और पहलवानों के धरने के आरोपों के बाद सरकार ने कुश्ती संघ का कामकाज देखने के लिए कमेटी बनाई थी. इस कमेटी के सदस्यों के नामों की घोषणा सोमवार (23 जनवरी) को की गई थी. पहलवानों ने कमेटी के गठन को लेकर अनबन जताई है. ओलंपियन पहलवान बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक ने मंगलवार (24 जनवरी) को ट्वीट कर कहा कि सरकार ने कमेटी का गठन पहलवानों कि बिना राय के हुआ है जिस समय इस समिति का गठन हुआ उस टाइम पहलवानों से कुछ नहीं पूछा गया .

कमेटी से नाखुश खिलाड़ियों ने कहा- ‘हमें आश्वासन दिया गया था कि…’: Wrestlers Protest

बजरंग पूनिया टोक्यो ओलंपिक के पदक विजेता ने ट्वीट किया कि, “हमें आश्वासन दिया गया था कि ओवरसाइट कमेटी के गठन से पहले हमसे परामर्श किया जाएगा. बड़े दुख की बात है कि इस कमेटी के गठन से पहले हमसे राय भी नहीं ली गई.” बजरंग पूनिया ने साथ ही प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर को भी टैग किया है.

साक्षी मलिक ओलंपियन पहलवान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “हमें आश्वासन दिया गया था कि ओवरसाइट कमेटी के स्थापित होने से पहले हमसे परामर्श किया जायेगा. और दुख की बात यह है कि इस समिति के गठन से पहले हमसे किसी भी तरह कि पूछताछ या सलाह तक नहीं ली गई.”
एमसी मेरीकॉम दिग्गज मुक्केबाज को भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह के खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न (Sexual Harrasment) के आरोपों की जांच के लिए गठित 5 सदस्य निगरानी समिति की अध्यक्ष बनाया गया था.

सोमवार को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस नामिका के गठन की घोषणा की थी

वहीं योगेश्वर दत्त ओलंपिक पदक विजेता पहलवान, पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी और मिशन ओलंपिक खेल की सदस्य तृप्ति मुरगुंडे, टॉप्स के पूर्व CEO राजगोपालन और भारतीय खेल प्राधिकरण (साईं) की पूर्व कार्यकारी निदेशक (टीम) राधिका श्रीमन इस कमेटी के अन्य सदस्य हैं. सोमवार को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस नामिका के गठन की घोषणा की थी.

देश के चोटी के पहलवानों ने WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न (Sexual Harrasment) और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं. दिल्ली के जंतर मंतर पर पहलवानों ने धरना दिया था. अनुराग ठाकुर ने तीन दिन तक चले धरना प्रदर्शन के बाद शनिवार को समिति गठित करने का फैसला किया था. अनुराग ठाकुर के साथ इससे पहले शुक्रवार देर रात मीटिंग के बाद पहलवानों ने अपना धरना खत्म कर दिया था. और अब खिलाडियों ने फिर से इस बात को लेकर मुद्दा उठा दिया है.

Show More

Related Articles

Back to top button